• Sun. Aug 7th, 2022

बहुचर्चित बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद ने की सुसाइड की कोशिश, अस्पताल में भर्ती

Jun 18, 2021

देश की राजधानी दिल्ली की बहुचर्चित बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद ने सुसाइड की कोशिश की है। बाबा के ढाबा के मालिक कांता प्रसाद को इसके बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कांता प्रसाद शराब और नींद की गोलियां खाने के बाद बेहोश हो गए थे। उनके बेटे से इस घटना के संदर्भ में बयान लिया जा चुका है। फिलहाल उनका इलाज दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में किया जा रहा है। अबतक हुए जांच में अंदेशा यही लगाया जा रहा है कि उन्होंने आत्महत्या करने की कोशिश की थी। अभी मामले की जांच जारी है।
इस घटना को लेकर कांता प्रसाद की पत्नी बदामी देवी ने कहा कि उन्हें भी इस बात की जानकारी नहीं है कि आखिर उन्होंने ऐसा क्यों किया। उन्होंने क्या खाया, मैने नही देखा। मैं उस वक्त पर ढाबे पर मौजूद थी, जब वो बेहोश हुए, तो हम उन्हें अस्पताल लेकर गए। डॉक्टर्स ने भी अबतक हमें कुछ नही बताया है। आखिर उनके दिमाग में क्या चल रहा था इसकी जानकारी मुझे भी नही है।
दिल्ली के मालवीय नगर में स्थित बहुचर्चित बाबा का ढाबा के मालिक 80 वर्षीय कांता प्रसाद हैं। पिछले साल कोरोना के मार के कारण उनका धंधा नही चल रहा था। इसके बाद ही उन्होंने एक वीडियो सोशल मीडिया पर डाला जिसमें उन्होंने अपनी दुखभरी कहानी दुनिया को सुनाई थी। उनका सोशल मीडिया पर डाला गया यह वीडियो खूब चला और बहुत जल्द ही यह वायरल हो गया। उसके बाद से ही उनके ढाबे पर ग्राहकों की लाइनें लगनी शुरू हो गई। ग्राहकों की आती भीड़ और वायरल वीडियो के बाद बाबा का ढाबा पूरे देश में मशहूर हो गया।
ग्राहक की भीड़ आने के बाद बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद ने अपने स्टॉल के पास एक रेस्टोरेंट भी खोला था उन्होंने इसका नाम भी बाबा का ढाबा ही रखा था। इस रेस्टोरेंट को चलाने में कांता प्रसाद को हर महीने 1 लाख का खर्च आ रहा था जिसमें 35 हजार रेस्टोरेंट का किराया और 36 हजार तो कर्मचारियों को देने पड़ते थे। रेस्टोरेंट हो रहे नुकसान से वह फिर से आर्थिक तंगी से जुझने लगे इसी कारण उन्हें 15 फरवरी को रेस्टोरेंट बंद करना पड़ा। रेस्टोरेंट बंद करके वह फिर से अपने स्टॉल पर लौट चुके थे और उसे फिर से शुरू कर दिया था।
सौरव कुमार