• Fri. Jun 14th, 2024

पाकिस्तान रेंजर्स ने बीएसफ़ को सौंपा विपिन कुमार का शव

ऊना: हिमाचल प्रदेश राज्य के जिला ऊना के हरोली इलाके के नंगलकलां गांव के निवासी विपिन कुमार का पार्थिव शरीर बुधवार को पाकिस्तान इस्लामिक गणतंत्र से भारत गणराज्य लाया गया। पाकिस्तान के रेंजर्स ने भारत-पाकिस्तान सीमा की शून्य रेखा पर शव को भारत के सीमा सुरक्षा बल को सौंप दिया। ऊना के नायब तहसीलदार राजन शर्मा और मृतक के भाई चिरंजी लाल और नगर पंचायत के चेयरमैन प्रकाश चंद पार्थिव शरीर को लेने हेतु सुबह से ही एम्बुलेंस को लेकर पहुंच थे। औपचरिकताएं पूर्ण होने के पश्चात् नायब तहसीलदार समेत परिवार के सदस्य पार्थिव शरीर को लेकर ऊना पहुंचे। नगर पंचायत टाहलीवाल के चेयरमैन प्रकाश चंद व उप-चेयरमैन गुरनाम सिंह ने बताया कि लगभग 10 वर्ष पूर्व विपिन कुमार एकदम से गायब हो गए थे। कई बार उन्हें ढूंढने पश्चात् भी जब उनका कुछ पता नहीं चला, तो पुलिस स्टेशन में इसकी रिपोर्ट दर्ज करवाई।

एक महीने पहले आसूचना यानि इंटेलिजेंस ने परिवार के सदस्यों को यह सूचना दी कि विपिन कुमार पाकिस्तान की एक जेल में कैद हैं और अब 2 अप्रैल 2023 को यह सूचना दी गई कि उनकी जेल में मृत्यु हो गई है। जेसीपी अटारी सीमा पर तैनात पंजाब पुलिस के प्रोटोकाल अफ़सर अरुण माहल ने बताया कि विपिन कुमार को पाकिस्तान की सीमा में घुसपैठ किए जाने पर पकड़ लिया गया था। फ़िर उन पर केस दर्ज करने के पश्चात् जेल में डाल दिया गया था। कुछ वक़्त पूर्व विपिन कुमार की सेहत खराब हो गई और 2 अप्रैल 2023 को इलाज के वक़्त उनकी मृत्यु हो गई।

उधर, हरोली क्षेत्र के एसडीएम विशाल शर्मा ने बताया कि विपिन कुमार मानसिक रूप से स्वस्थ नहीं थे। वह भारतीय पंजाब के अमृतसर में पल्लेदार का कार्य करते थे। इस दौरान वह पाकिस्तान कैसे पहुंच गए, इसकी जानकारी नहीं मिली है।

अमन ठाकुर – हिमाचल प्रदेश