• Fri. Jun 2nd, 2023

मॉस्को: रुसी महासंघ के राष्ट्रपति आवास क्रेमलिन पर हुए ड्रोन से आक्रमण को लेकर एक नया बयान सामने आया है। इस बयान में रूस ने संयुक्त राज्य अमेरिका को इस हमले के पीछे का मास्टरमाइंड घोषित किया है। रुसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने कहा कि हमें मालूम है कि इस प्रकार के आतंकवादी हमलों का निर्णय अमेरिका लेता है। यूक्रेन तो निर्णयों को सिर्फ़ लागू करता है। उन्होंने यह भी कहा कि अमेरिका पूर्व में भी ऐसा कई बार कर चुका है।

युक्रेन ने बुधवार को इस हमले की जिम्मेदारी लेने से मना कर दिया था। इस पर प्रवक्ता पेस्कोव ने कहा कि हमला कर उसकी जिम्मेदारी से पीछे हटना बेहूदा है।

रूस के सांसद ने उठाई राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की को मारने की मांग

राष्ट्रपति आवास क्रेमलिन पर आक्रमण के पश्चात् रुसी महासंघ की संसद में यूक्रेनी राष्ट्रपति के महल पर आक्रमण की मांग उठने लगी है। रूस के पूर्व राष्ट्रपति और राष्ट्रपति पुतिन के करीबी दिमित्री मेदवेदेव ने कहा कि अब हम लोगों के पास जेलेंस्की को मारने के अलावा और कोई विकल्प मौजूद नहीं है।

रूस की समाचार एजेंसी तास के अनुसार, अपने टेलीग्राम के चैनल पर मेदवेदेव ने लिखा कि वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की को बिना शर्त के आत्मसमर्पण (सरेंडर) करने की भी आवश्यकता नहीं है। एडोल्फ हिटलर ने भी ऐसा नहीं किया था। ज़ेलेंस्की उनके ही प्रतिनिधि हैं। वहीं आक्रमण के पश्चात् सुरक्षा के प्रोटोकॉल को देखते हुए व्लादिमीर पुतिन को उनके घर नोवो-ओगारेवो में बने बंकर में स्थानान्तरित कर दिया गया है। वह उधर से ही अपने आज के कार्य को पूर्ण करेंगे।

अमेरिका ने कहा- हम आक्रमण की बात निश्चित नहीं कर सकते

रूस की संसद में आक्रमण के पश्चात् ज़ेलेंस्की को उत्तर देने की मांग उठ रही है। 2014 से रूस के नियंत्रण वाले क्रीमिया इलाके के राज्य ड्यूमा के डिप्टी मिखाइल शेरेमेट ने कहा कि इस ड्रोन हमले के प्रतिशोध में मॉस्को को भी कीव में स्थित ज़ेलेंस्की के आवास पर मिसाइल से आक्रमण करना चाहिए।

वहीं संयुक्त राज्य अमेरिका ने क्रेमलिन पर आक्रमण की बात को मानने से मना कर दिया है। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिकंन ने कहा कि हमने हमले की रिपोर्ट देखी है। हम यह निश्चित नहीं कर सकते कि यह सही है या गलत। हमें इसके बारे में कुछ भी पता नहीं है।

रूस की राजधानी मॉस्को में मिले ड्रोन के तीन टुकड़े

दूसरी ओर देखें तो, क्रेमलिन पर दो ड्रोन से हुए हमले के कुछ समय बाद ही मॉस्को में एक और ड्रोन मिला था। रूस की आपातकालीन सेवा को कोलोम्ना के एक वन में ड्रोन के पंख (विंग्स), इंजन व छोटा फनल मिला। ड्रोन के सभी टुकडों को जांच करने हेतु भेज दिया गया है।

इससे पूर्व यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की ने यह स्पष्ट कर दिया था कि क्रेमलिन पर ड्रोन हमले यूक्रेन ने नहीं किए। उन्होंने कहा कि यह केवल रूस का एक नाटक था। हम अपनी सेना को केवल यूक्रेन की रक्षा के आदेश दिए हैं। उन्हें रुसी महासंघ पर हमले की अनुमति नहीं है।

बुधवार को हुआ था क्रेमलिन पर ड्रोन से हमला

बुधवार की शाम को रुसी महासंघ के राष्ट्रपति आवास क्रेमलिन पर दो ड्रोन से हमला किया गया था। दोनों ड्रोन क्रेमलिन के गुंबद पर जाकर टकराए। हालांकि, हमले के समय राष्ट्रपति पुतिन वहां उपस्थित नहीं थे। आक्रमण के पश्चात् रूस ने कहा था कि हम इसे आतंकवादी हमला मनते हैं। यह राष्ट्रपति को जान से मारने का षड्यंत्र था। रूस के पास इस आक्रमण का उत्तर देने का अधिकार है।इसलिए स्थान तथा समय का चुनाव भी रुसी महासंघ ही करेगा।

रूस से आई इस धमकी के पश्चात् ही यूक्रेन की राजधानी कीव में हवाई हमले के अलार्म सक्रिय कर दिए गए थे। क्रेमलिन पर यह हमला 9 मई को होने वाली विक्ट्री डे परेड से 6 दिन पूर्व किया गया। प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने कहा कि इस प्रकार के हथकंडों से हम डरने वाले नहीं हैं। हमारे रडार और ट्रैकिंग सिस्टम से ड्रोन का पता लगा लिया और उन्हें तबाह कर दिया गया।

प्रवक्ता पेस्कोव ने कहा कि हम यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि विक्ट्री डे परेड भी अनुसूची (शेड्यूल) के अनुसार ही होगी। कुछ दिन पूर्व रूस ने यह संदेह जताया था कि व्लादिमीर पुतिन पर अत्याधुनिक ड्रोन से हमला किया जा सकता है।

राष्ट्रपति पुतिन के पास समान दिखने वाले कई कार्यलय

अमेरिकी समाचार पत्र ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ की एक रिपोर्ट के अनुसार- पुतिन के पास बिल्कुल एक समान कई कर्यालय भिन्न-भिन्न स्थानों पर मौजूद हैं। इनकी सजावट और बाकी चीजें एक समान दिखती हैं। यह जानकारी ग्लेब काराकुलोव ने दी है। वो रूस की फेडरल प्रोटेक्शन सर्विस में कार्य कर चुके हैं।

अमन ठाकुर – हिमाचल प्रदेश