• Fri. Sep 22nd, 2023

जातिवाद को बढ़ावा न देते हुए छात्रों के भविष्य के बारे में सोच रहा ये राज्य

हरियाणा देश का पहला ऐसा राज्य जहाँ मंदिरों और मस्जिदो के लाउड स्पीकर मे बच्चो को जगाने के लिए अलार्म बजेगा।
हम आपको बता दे हरियाणा सरकार ने एक ऐसा नियम लागू किया है जिसमे मंदिरो और मस्जिदो मे बज रहे अलग अलग धर्मो के गीतों के स्थान पर अलार्म बजाए जायेंगे। जिससे छात्रों के नींद जल्दी टूटे और अपनी पढाई कर सके।
राज्य शिक्षा विभाग के तरफ से कहा गया की अभिभावकों की जिमेदारी है की वो अपने बच्चो को 4/4.30 में उठा दे, बच्चे अपनी पढाई मे ध्यान लगाए और अच्छे से बोर्ड की तैयारी करे। आगामी बोर्ड परिकक्षाओ को लेकर हरियाणा सरकार काफी जागरुकता दिखा रही हैं। जहाँ पहले मस्जिदो में अल्लाह हो अकबर के तथा मंदिरो मे भगवान के भजन के गीत बजते थे इसी को लेकर सरकार ने कहा अब अलार्म बजाये जायेंगे। तब बच्चो को पढाई करने मे समाजिक रूप से सहायता मिलेगी तथा सरकारी स्कूलों में प्रधानाध्यापक को भेजे गए पत्र में विभाग ने ये बात लिखा की अभिभावकों और शिक्षकों द्वारा एक संयुक्त योजना बनाई जाए जिसमे छात्रों को स्वास्थ्य के लिए कुछ समय मिल सके। पढाई के लिए सुबह का समय सही होता है सुबह शोरगुल नही होता है इसिलिए सुबह 4. 30 बच्चो को जगाये ध्यान पूर्वक छात्र पढाई कर सकेंगे। इसके अलावा शिक्षक व्हाट्सअप ग्रुप के जरिये भी पूछताछ करते रहेगे की छात्र पढ़ाई कर रहा या नही। इस कार्य में अगर अभिभावकों का सहयोग नही मिल रहा है तो यह गाँव मे पंचायत सदस्यों को सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। इससे पूरी तरह से पढाई करने का मौका मिलेगा। माध्यमिक शिक्षा निर्देशक ने सरकारी स्कूलों के प्रधान शिक्षकों तथा जिला शिक्षा अधिकारी से पत्र में स्पष्ट रुप से कहा कि सुबह सुबह अलार्म ही बजना चाहिए।

रिपोर्ट: वंशिका सिंह