• Wed. Sep 22nd, 2021

आतंकी संगठन के सामने घुटने पर आयी पाकिस्तानी सरकार, गिड़गिड़ाते दिखे इमरान खान

Apr 19, 2021 , ,

पाकिस्तानी सरकार द्वारा घोषित आतंकी संगठन TLP के सामने पाकिस्तानी सरकार ही अब घुटने पर नज़र आ रही है। फ़्रांस के विरोध के मामले ने पाकिस्तान में अब और अधिक तूल पकड़ लिया है, जगह-जगह हिंसक प्रदर्शन हो रहे है साथ ही साथ इमरान सरकार की किरकिरी न केवल देश में ही अपितु वैश्विक मंचों पर भी हो रही है। ताजा घटनाक्रम के अनुसार आज पाकिस्तानी प्रधानमन्त्री इमरान खान खुद कैमरे पर आये और उन्होंने राष्ट्र को सम्बोधित भी किया।

लेकिन राष्ट्र के नाम सम्बोधन के दौरान इमरान खान एक राष्ट्र की गरिमा को भी दांव पर लगा बैठे, इमरान सम्बोधन के दौरान एक राष्ट्र के सशक्त प्रधानमन्त्री की जगह एक लाचार और बेबस नेता से कहीं अधिक कुछ भी नहीं दिख रहे थे, प्रधानमंत्री के सम्बोधन से यह साफ़ दिखाई पड़ रहा था कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री और सरकार किस तरह से एक आतंकी संगठन के सामने बौने साबित हो रहे है।

क्या कहा पाक पीएम ने –
पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने भाषण के दौरान लगभग गिड़गिड़ाते हुए TLP के कार्यकर्ताओं और नेताओं को सम्बोधित करने का प्रयास किया। इमरान खान ने कहा कि, यदि हम फ़्रांस के राजदूत को पाकिस्तान से बाहर भेज भी देते है और हम फ्रांसीसी सरकार से सभी रिश्ते ख़त्म भी कर लेते है तो भी इससे ईश निंदा रुकने वाली नहीं है। उन्होंने पाकिस्तानी नागरिकों से पूछा कि क्या इसकी कोई गारंटी दे सकता है।

पहले भी हो चुका है ऐसा –
पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि, 1990 के आस-पास सलमान रुश्दी ने भी इसी विषय पर किताब लिखी थी फिर क्या हुआ पाकिस्तानी जनता सडकों पर आयी, यूएस एम्बेसी पर हमला हुआ कई सारे नागरिक शहीद हो गए लेकिन उसके बाद भी कोई परिवर्तन नहीं हुआ। दुनिया के पश्चिमी देशों में गाहे बगाहे ईश निंदा होती ही रहती है।

फ़्रांस से रिश्ता तोड़ने पर पाकिस्तान हो सकता है बर्बाद-
पाकिस्तानी पीएम ने कहा कि चलिए हम मान लेते है कि, हम फ्रांसीसी राजदूत को देश से बाहर भेज देते है और फ़्रांस से भी सारे रिश्ते तोड़ लेते है परन्तु इससे किसका नुकसान होगा, कुछ भी नहीं उन्होंने कहा। पाकिस्तानी पीएम ने आगे कहा, अगर इससे किसी का नुकसान होगा तो वह केवल पाकिस्तान को ही नुकसान होने वाला है और पाकिस्तान न केवल फ़्रांस से ही अलग होगा बल्कि समूचे यूरोपीय यूनियन से भी फ़्रांस कट जाएगा। उन्होंने कहा जैसे तैसे पाकिस्तान आर्थिक तरक्की की तरफ बढ़ रहा है लेकिन ऐसा करने से पाकिस्तान में बेरोजगारी अपने चरम पर पहुँच सकती है, हमारे कल कारखाने बंद हो सकते हैं।

हमारी और TLP की सोच एक जैसी –
पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने आज कैमरे के समक्ष माना कि उनकी सरकार और आतंकी संगठन TLP की सोच बिलकुल एक जैसी ही है बस उनके कार्य-करने के तरीके में भिन्नता है। उन्होंने कहा हम इस मामले पर पूरी नज़र बनाये हुए हैं और हमारा विरोध जारी रहेगा। हम भी हमारे ईश्वर की निंदा को कतई बर्दास्त नहीं करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि याद रखिये पकिस्तान धर्म के आधार पर बना हुआ देश है और हम अल्लाह की निंदा को कतई भी बर्दास्त नहीं करेंगे।

रिपोर्ट- धर्मेंद्र सिंह