• Tue. Mar 5th, 2024

शेयर मार्केट में हो रही हलचल, इन स्टॉक पर डालें नजर

नई दिल्ली: भारतीय शेयर बाजार में देखा जाए तो काफी बढ़त देखी गई है। इस बीच कोटक महिंद्रा बैंक के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (CEO) उदय कोटक ने बताया है कि वृहद कारकों के सकारात्मक होने के अलावा भारत वैश्विक वित्तीय बाजार में मौजूदा उथल-पुथल के साथ आसानी से बाहर होने की उम्मीद है। कोटक ने जानकारी दिया है भारत को अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल के दाम कम होने का फायदा मिलने की उम्मीद है ।और 2023-24 में देश का चालू खाते का घाटा (कैड) भी दो प्रतिशत नीचे आने की संभावना है।

अमेरिकी बाजार का ऐसा रहा हाल

गौरतलब है कि बीते सप्ताह अमेरिका के दो बैंकों की बात करें तो बैंक विफल हो गए जिनमें न्यूयॉर्क का सिग्नेचर बैंक शामिल हो गया है। यह बैंक क्रिप्टो उद्योग को ऋण सुविधा मिल रही थी, इसे नियामकों ने रविवार को बंद किया गया है। इससे पहले बीते शुक्रवार को अमेरिका के 16वें बड़े बैंक सिलिकॉन वैली बैंक को बंद कर दिया गया है। यह बैंक मुख्य रूप से स्टार्टअप उद्योग को वित्तीय सहायता का फायदा मिल जाता है।

वैश्विक स्तर पर अनिश्चितता

मुख्य आर्थिक सलाहकार वी अनंत नागेश्वरन ने कहा कि अमेरिका में हाल के घटनाक्रमों के चलते वैश्विक स्तर पर अनिश्चितता बढ़ रही है और सरकारों, कारोबार और लोगों को वित्त, कॉरपोरेट और बचत खाते की योजना बनाते वक्त सुरक्षित मार्जिन बनाकर रखना चाहिए. उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने जनवरी में वैश्विक वृद्धि के जो अनुमान जताए थे वे पुराने हो चुके हैं और अब देशों को यह देखना होगा कि बीते हफ्ते अमेरिका में जो घटनाक्रम हुए उनका भरोसे पर, बैंकों की कर्ज वृद्धि आदि पर क्या प्रभाव होगा.

वैश्विक स्तर के बारे में जाने

मुख्य आर्थिक सलाहकार वी अनंत नागेश्वरन ने जानकारी दिया है कि अमेरिका में हाल के घटनाक्रमों की वजह से वैश्विक स्तर में अनिश्चितता बढ़ रही है और सरकारों, कारोबार और लोगों को लेकर वित्त, कॉरपोरेट और बचत खाते की योजना बनाते वक्त सुरक्षित मार्जिन बनाकर रखने की जरूरत है।

अंज़र हाशमी- उत्तर प्रदेश