• Thu. Apr 18th, 2024

कब होता है कार के इंजन का तेल बदलने का सही समय, जानें पूरी जानकारी

कारों का रखरखाव उतना ही जरूरी होता है जितना कि हम खुद का करते हैं। समय पर इसकी सेवा करना, इसका चिकित्सक यानि मैकेनिक से जाँच करवाना, हवा पानी की जाँच करना और भी बहुत कुछ। इन सभी बातों का ध्यान रख हम कार की ज़िंदगी को तो बढ़ाते ही हैं, साथ ही खुद को भी सुकून में रखते हैं और गाड़ी चलाने का मजा लेते हैं। लेकिन कई बार भूलवश हम कुछ ऐसा भी कर जाते हैं जो हमारी जेब पर तो भारी पड़ ही जाता है, साथ ही हमारे दिमाग को भी पूरी तरह से खराब कर देता है।

ऐसा ही एक काम है जो कई बार कार मालिक भूल जाते हैं और वो है कार का तेल बदलवाना। सही समय पर तेल न बदलवाने से कार में कई दिक्कतों का सामना भी करना पड़ जाता है और कई बार हालात ऐसे भी हो जाते हैं कि गाड़ी का इंजन खराब हो जाता है जो हमारे लाखों रुपये तक खर्च करवा देता है। तो आइये जानते हैं कि कार के इंजन का तेल कब बदलवाना होता है और ऐसा नहीं करने पर क्या हो सकता है।

कब बदलवाएं कार के इंजन का तेल

  • यदि आप कार में कृत्रिम इंजन तेल का इस्तेमाल करते हैं तो इसे 10 से 15 हजार किलोमीटर के बीच बदलावाना होता है।
  • कार में यदि सामान्य इंजन तेल है तो इसे 5 से 7 हजार किलोमीटर के बीच बदलवाएं।
  • कार में हर 2 से 3 हजार किलोमीटर पर इंजन के तेल का स्तर जरूर जांचे। यदि ये कम हो गया है तो इसे टॉपअप करें।
  • इंजन के तेल की चिकनाहट को भी इसी समय पर जांचे। कमी लगने पर तेल को बदलवाएं।
  • तेल को बदलवाने के साथ ही तेल के फिल्टर को भी बदलवाएं, नहीं तो नया तेल भी जल्दी ही खराब हो जाएगा।
  • यदि आपकी कार किलोमीटर में कम चली है लेकिन इंजन का तेल बदलवाए 1 साल से ज्यादा हो गया है तो भी इसे तुरंत बदलवाएं।

क्या हो सकते हैं नुकसान
इंजन के तेल न बदलवाने का सीधा असर कार के इंजन पर ही पड़ता है। खराब इंजन के तेल पर ज्यादा समय कार चलाने से पिस्टन, रिंग्स और क्रैंक खराब हो सकते हैं। लंबे समय में कार का इंजन भी सीज हो सकता है जो आपके लिए एक बड़ी परेशानी का कारण बन सकता है। ये खर्चीला होने के साथ ही आपकी कार की ज़िंदगी को भी पूरी तरह से खत्म कर सकता है।

आशीष ठाकुर – हिमाचल प्रदेश