• Thu. May 23rd, 2024

पराली जलाए जाने पर मुख्यमंत्री ने लिया अहम फैसला

Nov 14, 2023 ABUZAR

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार एक बार फिर सख्ती के मोड में आ चुकी है। इस बार योगी सरकार के निशाने पर प्रदेश के किसान आ गए हैं। यह वो किसान हैं जो सख्ती के बावजूद खेतों में धान की पराली जलाया जा रहा है। इसके तहत पहली कार्रवाई उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले में हो चुकी है। यहां खेतों में पराली जलने पर तीन लेखपालों को सस्पेंड कर दिया गया है। जबकि 28 किसानों पर मुकदमा दर्ज कर 10 किसानों को गिरफ्तार किया गया है। इन किसानों को प्रशासन ने जेल भेज दिया है। वहीं महाराजगंज में बड़ी कार्रवाई होने से किसानों और प्रशासन में हड़कंप मचना शुरु हो गया है।

मंगलवार को लखनऊ में मुख्य सचिव के सामने कृषि विभाग ने पराली प्रबंधन का प्रस्तुतिकरण दिया। इसमें बताया गया कि किसानों को पराली प्रबंधन के लिए किसानों को एकल कृषि यंत्रों पर 50 फीसदी का अनुदान दिया जा रहा है। मुख्य सचिव को बताया गया कि प्रदेश में 44 हजार 363 एकल कृषि यंत्र बांटे जा चुके हैं।

जानकारी के अनुसार महाराजगंज के डीएम अनुनय झा ने सीएम के आदेशानुसार जिले में कहीं भी पराली न जलाने को लेकर आदेश दिया गया था। साथ ही कहा था कि पराली जलने पर संबंधित अधिकारियों की जवाबदेही होगी। इसके बावजूद महाराजगंज जिले में धड़ल्ले से खेतों में धान की पराली जलाई जा रही थी। इसकी रिपोर्ट शासन तक पहुंची थी।