• Thu. Jul 29th, 2021

उत्तरप्रदेश में मंत्रीमंडल विस्तार को लेकर चर्चा हुई तेज़: सूत्र

लखनऊ: पीएम मोदी द्वारा केंद्रीय मंत्रिपरिषद विस्‍तार करने के बाद अब यूपी में योगी सरकार के मंत्रिमंडल विस्‍तार को लेकर चर्चा काफी तेज हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक इसी महीने के अंतिम हफ्ते तक नए मंत्रियों को शपथ दिलाने की योजना शुरु हो सकती है। इसपर जानकारी दी जा रही है कि इस बारे में जल्‍द ही भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा, प्रदेश अध्‍यक्ष स्‍वतंत्र देव सिंह और प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल की बैठक में मंत्रीमंडल विस्तार पर चर्चा की जा सकती है। नए विस्‍तार में किन चेहरों को जगह मिलने की उम्मीद है और किन को पद से इस्तीफा देना होगा इसे लेकर अभी तक कुछ भी फैसला नहीं लिया गया है। माना जा रहा है कि केंद्रीय मंत्रिपरिषद की तरह यूपी में भी मंत्रिमंडल से ऐसे कुछ सदस्‍यों को राहत दी जा सकती है जिनका कामकाज प्रभावशाली नहीं रहा है। इस बार कम से कम छह नए चेहरों को मंत्रिमंडल में शामिल करने की चर्चा जोरों से हो रही है। यूपी में आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारी में भाजपा पूरी तरह से तैयारी में लग गई है। सीएम योगी के मंत्रिमंडल में जल्‍द ही फेरबदल होने की उम्मीद लगाई जा रही है। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक यूपी सरकाार मंत्रिमंडल के जिन सदस्‍यों का रिपोर्ट कार्ड ठीक नहीं है उनकी जगह पर नए चहरों को मौका दिया जा सकता है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने केंद्रीय मंत्रिपरिषद में बदलाव किया था। इसको भी यूपी से जोड़कर देखा जा रहा है। प्रदेश में अगले साल चुनावों को देखकर केंद्रीय मंत्रिमंडल में सात नए चेहरों को जगह दी गई जिसमें अनुप्रिया पटेल, मोहनलालगंज से भाजपा सांसद कौशल किशोर, भानु प्रताप वर्मा, बीएल वर्मा, एसपी सिंह बघेल, अजय मिश्र और पंकज चौधरी शामिल जैसे नामचीन नेता शामिल हैं।

अंज़र हाशमी, उत्तरप्रदेश