• Fri. Jul 19th, 2024

जेनेवा में एआई रोबोट्स की प्रेस कॉन्फ्रेंस

जेनेवा: दुनिया के सबसे उन्नत रोबोटों का पहला प्रेस सम्मेलन यूरोपीआई देश स्विट्जरलैंड के जेनेवा में हुआ। ये सभी रोबोट एआई के माध्यम से संचालित थे। 51 रोबोट लगभग 3000 विशेषज्ञों के साथ सम्मिलित हुए।

रोबोटों ने विभिन्न विषयों पर प्रश्नों का उत्तर दिया। सोफिया नामक रोबोट ने कहा कि हम दुनिया को मनुष्य की अपेक्षा उत्तम ढंग से संचालित कर सकते हैं। हमें मानवों की तरह भावुकता नहीं होती, इसलिए हम सभी निर्णयों को तथ्यों पर आधारित करके मजबूती से ले सकते हैं।

रोबोटों ने ये भी स्वीकार किया है कि वे अब तक मानवीय भावनाओं को समझने में कमजोर हैं। लोगों के स्वास्थ्य और बायो-टेक्नोलॉजी पर कार्य करने वाली रोबोट ऐडा ने कहा कि हम मानवों की आयु 150 से 180 साल तक पहुंचा सकते हैं। लोगों को इसका पता ही नहीं है।

जिस सम्मेलन में ये प्रेस सम्मेलन हुआ उसका उद्देश्य रोबोट का उपयोग करके जलवायु परिवर्तन, भूख और सामाजिक सेवा जैसे मुद्दों का हल निकालना था।

एआई को मानवता के लिए एक खतरा मानने वाले बिल गेट्स, एलन मस्क और स्टीफन हॉकिंग जैसे लोग हैं। इसके बावजूद, गूगल, फेसबुक सहित दुनिया की सभी टेक कंपनियां इस तकनीक पर अरबों का निवेश करती हैं, और चीन, रूस और अमेरिका जैसे देशों की सरकारें इसके प्रभाव को हासिल करने का प्रयास करती हैं।

वैज्ञानिकों का एक तबका इसे जीवन परिवर्तक तकनीक के रूप में मानते हैं, जो इससे मानवों को बीमारियों से मुक्ति और लंबी आयु की प्राप्ति की उम्मीद करते हैं। दूसरी ओर, इसे परमाणु बम से अधिक खतरनाक हथियार समझने वाले वैज्ञानिक भी दुनिया में उपस्थित हैं।

अमन ठाकुर – हिमाचल प्रदेश