• Fri. Jun 21st, 2024

रूस को हो रहा है नुकसान, 20 हजार से अधिक सैनिकों की हुई मौत

May 2, 2023 ABUZAR , ,

नई दिल्ली:यूक्रेन (Ukraine) पर कब्ज़ा करने के इरादे से रूस (Russia) के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) के आदेश पर रुसी आर्मी ने 24 फरवरी, 2022 को यूक्रेन में घुसपैठ करने के बाद हमला कर दिया है। पुतिन के प्लान के अनुसार रूस कुछ ही दिनों में यूक्रेन पर कब्ज़ा को लेकर तैयार हो गया था। द्वितीय विश्व युद्ध (World War II) के बाद से अब तक का यह सबसे बड़ा युद्ध माना जा रहा है।

रूस की शक्तिशाली आर्मी और हथियारों की भरमार के बावजूद रूस को अभी तक इस लड़ाई में जीत प्राप्त नहीं हुई है और एक साल से भी ज़्यादा समय होने के बावजूद यह युद्ध अभी भी जारी हो गया है। लगातार मिल रहे इंटरनेशनल सपोर्ट की बदौलत यूक्रेन की आर्मी अभी भी डटकर रुसी आर्मी द्वारा सामना किया जा रहा है। युद्ध शुरू होने पर जहाँ लग रहा था कि रूसी आर्मी कुछ दिनों में ही जीत हासिल करने को लेकर तैयार हो गई है।

व्हाइट हाउस (White House) के एक अधिकारी ने हाल ही में रूस और यूक्रेन युद्ध को लेकर बातचीत में कहा है कि रूस को इस युद्ध में भारी नुकसान होना शुरु हो गया है। वित्तीय नुकसान के अलावा रूस की आर्मी को भी इस जंग का खामियाजा चुकाना पड़ सकता है। वाइट हाउस अधिकारी के अनुसार पिछले 5 महीने में अब तक रुसी आर्मी के 20 हज़ार से ज़्यादा सैनिकों की मौत हो गई है । इसी दौरान 1 लाख से भी ज़्यादा रुसी सैनिक घायल हो गए हैं।

अगर युद्ध शुरू होने से अब तक के आँकड़ों पर नजर डाले तो, तो व्हाइट हाउस अधिकारी के अनुसार अब तक 1 लाख से भी ज़्यादा रुसी सैनिकों की इस युद्ध में मौत हो गई है और घायलों की संख्या इससे काफी अधिक हो गई है।