• Thu. Jul 18th, 2024

ओडिशा में हुआ ट्रेन हादसा

Jun 3, 2023 ABUZAR

ओडिशा के बालासोर में जिले में शुक्रवार को हुए ट्रेन दुर्घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 288 पहुंच गई है । वहीं करीब 850 घायल लोगों को कटक, भुवनेश्वर और बालासोर के अस्पतालों में भेजा जा चुका है।

इस हादसे में कोरोमंडल और बेंगलुरु-हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन के पटरी से उतरी और कोरोमंडल एक्सप्रेस एक मालगाड़ी से जोरदार टक्कर हो गाई। हादसे की खबर पाकर बचाव दल रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए दुर्घटनास्थल पर भागे। रात भर उन्होंने बोगी में फंसे लोगों को बाहर निकालने की कोशिश कर रहे थे। इसी बीच सेना भी रेस्क्यू दलों का बचाव कार्य में सहायता कर रहा हैं।

के डिब्बों के भीतर जूते-चप्पल, खाने पीने का सामान, पानी की बोतलें बिखरे रहना शुरू हो जाती है। हादसे में मरने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है शुक्रवार की शाम को हुए इस हादसे के बाद रेस्क्यू टीम के अलावा आस पास के गांववाले भी बचावकार्य के लिए सामना हुआ है। घटनास्थल पर पहुंचे ग्रामीणों ने ट्रेन के डिब्बों में फंसे लोगों को निकालकर उन्हें ट्रॉली से अस्पताल पहुंचा दिया गया। वे मामूली घायलों को पानी पिलाकर उन्हें सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है।

बचावकर्मियों के अलावा दुर्घटनास्थल पर 200 एंबुलेंस, 50 बस और 45 हेल्थ यूनिट भी मौजूद हो गया है। शवों को ट्रैक्टर समेत अलग-अलग वाहनों से अस्पताल पहुंचाया गया है। हादसे का निरीक्षण करने केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैश्नव दुर्घटनास्थल पर पहुंच सकते हैं। हादसे में मारे गए लोगों को रेल मंत्रालय की तरफ से 10 लाख रुपये और पीएमओ की तरफ से दो लाख रुपये देने की घोषणा की गई है। वहीं घायलों को इलाज के लिए पचास हजार रुपये दिया जाना अहम होता है।

बालासोर में हुए यह ट्रेन हादसा भारत में हुए अबतक ट्रेन दुर्घटनाओं में चौथा सबसे घातक हादसा माना जा रहा है। रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि यशवंतपुर-हावड़ा एक्सप्रेस (दुरंतो) के कई डिब्बे बाहानगा बाजार में पटरी से उतर गए और दूसरी पटरी पर जा गिर जाता था। वहीं पटरी पर गिरे ये डिब्बे कोरोमंडल एक्सप्रेस से टकरा गया था। टक्कर के बाद कोरोमंडक की बोगियां भी पलट गई और पटरी से उतरने के बाद एक मालगाड़ी से टकरा गई। इस हादसे में दो एक्सप्रेस ट्रेनों के साथ एक मालगाड़ी भी दुर्घटना की चपेट में आ गई थी।