• Fri. Jul 12th, 2024

ट्विटर के एड रेवेन्यू में होगी भारी गिरावट

Jun 7, 2023 ABUZAR

ट्विटर (Twitter) दुनियाभर में सवसे ज़्यादा पॉपुलर और इस्तेमाल होने वाले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स में से एक माना जा रहा है। और बात जब सबसे प्रभावी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर होती है। तब ट्विटर का नाम इस लिस्ट में सबसे ऊपर है। पर ट्विटर को सिर्फ सोशल मीडिया के तौर पर देखा जाए, तो सही नहीं होने जा रहा है। ट्विटर एक बिज़नेस भी है और बिज़नेस के तौर पर ट्विटर में ज़बरदस्त संभावनाएं हैं। ट्विटर की इन्हीं संभावनाओं को देखते हुए एलन मस्क ने पिछले साल 27 अक्टूबर को ट्विटर को खरीदा गया था।

ट्विटर का टेकओवर करने के लिए एलन ने 44 बिलियन डॉलर्स खर्व कर दिया था। एलन की इस डील को कई लोग काफी महंगी बता रहे थे। हालांकि एलन ने हमेशा खुद पर भरोसा जताया और इस बात पर यकीन किया कि बिज़नेस के लिहाज से उन्हें ट्विटर से ज़बरदस्त फायदा होगा। पर एलन का खुद पर और ट्विटर के बिज़नेस पर किया यह भरोसा सच साबित नहीं हुआ और ट्विटर को पिछले 7 महीने में काफी नुकसान हो गया है।

7 महीने पहले जिस ट्विटर को खरीदने के लिए एलन को 44 बिलियन डॉलर्स खर्च करने पड़े थे, अब उसकी वैल्यू करीब 66% घटकर 15 बिलियन डॉलर्स रह गई है। इसकी कई वजहें हैं, पर सबसे बड़ी वजह है ट्विटर के एड रेवेन्यू में गिरावट। एड रेवेन्यू यानी कि विज्ञापन से होने वाली कमाई मानी जा रही है।

ट्विटर की कमाई के ज़रियों पर गौर किया जाए, तो हमेशा से ही एड (विज्ञापन) ट्विटर की कमाई का सबसे बड़ा जरिया रहा है। पर एलन के ट्विटर को खरीदने के बाद से ही ट्विटर की कमाई के इस साधन में बड़ी गिरावट आई है। हाल ही में आई एक रिपोर्ट के अनुसार एलन के ट्विटर का टेकओवर करने के बाद से अब तक ट्विटर के एड रेवेन्यू में करीब 59% गिरावट देखा गया है।