• Fri. Jul 12th, 2024

कपिल देव ने खेली थी शानदार पारी

Jun 18, 2023

नई दिल्ली:     भारत ने शानदार रिकार्ड बनाया है। साल 1983 में, दूसरा 2007 में और तीसरा साल 2011 में पूरा किया था। टीम इंडिया के लिए पहला विश्व कप बेहद ही अहम माना जा रहा था।

फाइनल में हमने वेस्टइंडीज को हराया था. भारत को फाइनल तक पहुंचाने में कपिल देव का बहुत बड़ा हाथ माना जा रहा था। दरअसल, वह आज का ही दिन (18 जून) था, जब कपिल देव ने इतिहास रच दिया था। कपिल देव ने जिंबाब्वे के खिलाफ अहम मुकाबले में बेहतरीन शतक बना लिया था।

भारतीय कप्तान कपिल देव ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुन लिया था। टीम इंडिया के लिए बल्लेबाजी करने उतरे सुनील गावस्कर और क्रिस श्रीकांत शून्य पर ही आउट हो गए थे. इसके बाद मोहिंदर अमरनाथ ने 5, संदीप पाटिल ने 1, यशपाल शर्मा ने सिर्फ 9 रन की पारी खेली थी।

भारतीय टीम यहां काफी मुश्किल में दिखाई दे रही थी. लेकिन कपिल देव के इरादे कुछ और ही थे. वह 6 नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे थे. जहां उन्होंने भारत के लिए वनडे में पहला शतक भी ठोक दिया और टीम इंडिया को भी मझधार से निकलने में अहम भूमिका निभाई।

कपिल देव ने इस मुकाबले में कुल 175 रन बना लिया था। इस दौरान उन्होंने 16 चौके और 6 छक्के जड़े थे. उनकी इस शानदार पारी के दम पर भारत ने 60 ओवर में 266 का रन का स्कोर बना लिया था। चेज करते हुए जिम्बाब्वे की टीम 57 ओवर में 235 रन ही बना सकी थी. जिंबाब्वे की ओर से सिर्फ एक खिलाड़ी केविन करन अर्धशतक जड़ दिया था। नतीजा यह हुआ था कि भारत ने इस मैच को शानदार 31 रनों से जीता था।

बता दें कि इस महामुकाबले में भारतीय गेंदबाजों ने भी टीम का पूरा साथ दिया था. जिंबाब्वे के रोबिन ब्राउन रन आउट हो गए थे. इसके बाद ग्रैंट पीटरसन को रोजर बिन्नी ने आउट कर दिया। उन्होंने 2 विकेट लिए थे. दिग्गज क्रिकेटर मदन लाल ने इस मुकाबले में बेहतरीन 3 विकेट झटक लिया था। मोहिंदर अमरनाथ ने 1, बलविंदर संधू ने 1 और कपिल देव ने भी 1 विकेट अपने नाम किया था.