• Thu. Jul 18th, 2024

सूडान में बढ़ा संकट, देश छोड़ने को लोग मजबूर

Apr 24, 2023 ABUZAR , ,

नई दिल्ली:सूडान में तख्तापलट को लेकर सेना और पैरामिलट्री- रैपिड सपोर्ट फोर्स (RSF) के बीच 15 अप्रैल से जारी लड़ाई का आज 10वां दिन हो गया है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) द्वारा मिली जानकारी के अनुसार, अब तक 413 लोगों की मौत हो चुकी है। 3,551 लोग घायल हो चुके हैं।

देश सूडान में फंसे अपने नागरिकों को सुरक्षित निकालने को लेकर रेस्क्यू आपरेशन जारी है। अअमेरिका, ब्रिटेन समेत 9 देशों ने अपने डिप्लोमैट्स को रेस्क्यू कर लिया है। वहीं, सूडान में 4 हजार भारतीय भी मौजदू हैं, जो अब भी तक फंसे रहते हैं।

22 अप्रैल के दौरान सऊदी अरब ने सूडान में फंसे 158 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया था। इनमें कई भारतीय भी शामिल हो चुके हैं। भारत ने जेद्दाह में दो C-130J मिलिट्री ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट को स्टैंडबाय में रखा हुआ है।

सूडान छोड़ कर जा रहे हैं लोग

यूनाइटेड नेशन्स (UN) के मुताबिक, लड़ाई के चलते की इलाकों में पानी और बिजली की सप्लाई बाधित हो चुकी है। लोगों को खाने के लिए भोजन भी नहीं मौजूद है। इसके चलते करीब 20 हजार लोगों ने देश छोड़ चुके हैं। इनमें से ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं। इन्होंने पड़ोसी देश चाड में शरण ले चुके हैं।

WHO द्वारा मिली जानकारी के अनुसार, सूडान में अब तक 9 बच्चों की मौत हो गई है। 50 से ज्यादा घायल हो चुके हैं। 11 अस्पतालों पर हमले हुआ है। सूडान के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 20 मेडिकल फैसिलिटीज को काफी नुकसान हुआ है।

12 अन्य हेल्थ फैसिलिटीज को बंद करने की संभावना है। डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ ने जानकारी दिया है कि लड़ाई के चलते वो लोगों तक नहीं पहुंच रहे हैं।

अंज़र हाशमी- उत्तर प्रदेश