• Thu. Jul 18th, 2024

बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहकों को तुरंत करना होगा ये काम, नहीं तो हो सकता है नुकसान

नई दिल्ली: यदि आपका बैंक ऑफ बड़ौदा बैंक में अकाउंट मौजूद है तो काम करने के बाद आपको काफी फायदा मिल सकता है। बीओबी बैंक ने अपने ग्राहकों को लेकर अलर्ट जारी किया जा चुका है। बैंक ने कहा कि वे जल्द से जल्द अपनी ‘नो योर कस्टमर्स’ (C-KYC) की प्रक्रिया को लेकर जानकारी देने जा रहे हैं। इसको लेकर समय सीमा को तय हो चुका है। अगर ग्राहक नहीं कर रहे हैं तो आपको काफी नुकसान हो सकता है। बैंक बिना KYC अकाउंट को डीएक्टिवेट करने में मदद मिल जाती है। इसके लिए बैंक अपने कस्टमर्स को नोटिस देकर और एसएमएस की तरफ से जानकारी मिलने जा रही है।

बैंक ऑफ बड़ौदा ने एक ट्वीट में जानकारी दिया है कि 24 मार्च, 2023 तक सभी ग्राहकों के लिए सेंट्रल केवाईसी को पूरा करना भी जरुरी हो गया है। ऐसा नहीं कर रहे हैं तो आपका बैंक अकाउंट डिएक्टिवेट होने की आंशका है । बढ़ते फ्रॉड को देखते हुए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) देश के सभी बैंकों को KYC करने को लेकर सलाह मिलने जा रही है।

BOB की तरफ से नोटिफिकेशन जारी किया जा चुका है। जिसमें ग्राहकों से सेंट्रल केवाईसी (C-KYC) कराने को लेकर जानकारी दिया गया है। बैंक के अनुसार, जिन ग्राहकों को बैंक की ओर से सी-केवाईसी करने को लेकर देखा जाए तो नोटिस, फोन, एसएमएस और कॉल मिल जाता है।

, उसे तुरंत ब्रांच पर जाकर सी-केवाईसी करने से काफी लाभ हो सकता है। सभी ग्राहकों को बैंक के ब्रॉन्च जाकर अपने डॉक्यूमेंट्स को जमाकर इस प्रोसेस को पूरा करना काफी आसान होता है। ग्राहकों को ये काम 24 मार्च से पहला निपटाना की जरुरत है।

बैंक के नोटिस को नजरअंदाज कर केवाईसी दस्तावेज जमा नहीं कर रहे हैं तो आपको कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। ये काम नहीं कर रहे हैं तो आपको कई तरह से परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इसकी वजह से पैसा अटक जाता है। इसके अलावा अगर किसी ने पैसा ट्रांसफर कर दिया है तो उसमें भी परेशानी का सामना करना पड़ जाता है। वहीं, अगर एटीएम और चेक की मदद से लेनदेन पर भी काफी असर पड़ जाता है। ऐसा नहीं करने पर बैंक अकाउंट डिएक्टिवेट होने की संभावना रहती है।