• Fri. Jul 12th, 2024

चीनी अधिकारियों ने किया गुंबद-मीनार हटाने का प्रयास, अल्पसंख्यक मुसलमानों ने जताया विरोध

बीजिंग: दक्षिण-पश्चिमी चीन में अधिकारियों ने एक मस्जिद के गुंबद-मीनारों को हटाने की कोशिश की, परंतु हजारों जातिय अल्पसंख्यक मुसलमानों ने उसके बचाव हेतु मस्जिद को चारों ओर से घेर लिया। यह जानकारी विदेश के मीडिया से मिली है। मीडिया के मुताबिक, चीनी जनवादी गणराज्य के युन्नान प्रांत में स्थित नजियायिंग ग्राम में ‘जातीय समूह हुई’ से जुड़े एक मस्जिद का साफ तौर पर बदलाव चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की ओर से धर्म के “चीनीकरण” के व्यापक अभियान के बीच आया है। इस नीति का मकसद धार्मिक श्रद्धाओं को विदेश के प्रभाव से आजाद करना तथा उन्हें पारंपरिक चीनी संस्कृति और कम्युनिस्ट पार्टी के सत्तावादी राज के साथ ज्यादा नजदिकियों से जोड़ता है।

हुई कार्यकर्ताओं का कहना है कि चीन के अधिकारियों ने हाल के सालों में पूरे चीन में एक हजार से ज्यादा हुई समूह की मस्जिदों से साफ तौर पर इस्लामी वास्तुकला को हटा दिया है, गुंबदों को तबाह कर दिया और मीनारों को तोड़ दिया है। नजियायिंग मस्जिद इन मस्जिदों में से एक है। मीडिया के मुताबिक, दक्षिण-पूर्व के साथ लगती चीन की सीमाओं पर जातीय तौर से विविध प्रांत यून्नान में हुई समूह के ऐतिहासिक घर व इस्लामी संस्कृति के लिए एक जरूरी केंद्र नजियायिंग में अब “चीनीकरण” अभियान चलाया जा रहा है। परंतु इस अभियान को वहां के स्थानीय लोगों के तीखे विरोध का सामना करना पड़ रहा है।

सोशल मीडिया पर पोस्ट एक वीडियो में स्थानीय लोगों को पुलिस अफसरों की पंक्तियों से टकराते हुए दिखाया गया है। पुलिस ने मस्जिद के अंदर जाने वाले दरवाजे को बंद कर दिया है और भीड़ को ढाल व डंडे से पीछे की ओर धकेल दिया। वीडियो में दिख रहा है कि लोग क्रोध में चिल्लाते देखे जा रहे हैं, कुछ लोगों ने पुलिस पर पानी की बोतलें तथा ईंटें भी फेंकी। एक स्थानीय साक्षी ने मीडिया को बताया कि यह हमारी गरिमा का आखिरी क्षण है। यह हमारे घर में आकर अपना घर गिराने जैसा है। हम ऐसा नहीं होने देंगे।

निजी सुरक्षा के भय से अपनी पहचान सार्वजनिक न करने वाले सूत्रों ने कहा कि हुई समूह के हजारों लोग- जिनमें पुरुष-औरत, बुजुर्ग और बच्चे मौजूद हैं, शनिवार को मस्जिद के इर्दगिर्द जमा हो गए थे। इन्हें एक हजार से ज्यादा पुलिस अफसरों की कड़ी निगरानी में रखा गया था। सूत्र ने कहा कि दर्जनों प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने मौके पर ही हिरासत में ले लिया। एक प्रमुख हुई कार्यकर्ता “मां जू” जो अब संयुक्त राज्य अमेरिका में रहती है और नजियायिंग के रहने वाले लोगों के साथ नजदीक संपर्क रखती है ने कहा कि तकरीबन 30 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

अमन ठाकुर – हिमाचल प्रदेश