• Sun. May 22nd, 2022

मीडिया में नहीं दिखते परंतु कम ना आंका जाए, मायावती ने विपक्ष को दी चेतावनी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में हर राजनीतिक दल इस समय 2022 के विधानसभा चुनावों की तैयारी में लग गए हैं। हर दल की कोशिश है कि वह खुद को पूरी तरह सक्रिय और अगले चुनाव में जीत दर्ज कराकर सरकार बनाने के लिए ततपर दिखाए जिससे कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़े और वे अपनी तैयारी में लगें हुई है। इस बीच सोमवार को बसपा प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने अपनी और अपनी पार्टी को लेकर विपक्ष पर साजिश रचने का आरोप लेगा दिया है। मायावती ने आरोप लगाया कि विपक्षी जानबूझकर बसपा के कम सक्रिय होने की अफवाह फैलाई जा रही है। जबकि वह खुद फरवरी से लखनऊ में हैं और लगातार बैठकें हो रही है। उन्होंने यहां तक कह दिया कि भले ही वह मीडिया में कम दिखती हों, लेकिन उन्हें कम आंकने की गलती ना करें।उन्होंने बताया कि 2022 के चुनाव के लिए हमने अहम नारा दिया गया है। है कि यूपी को बचाना है और बसपा को सत्ता में लाना जरूरी है। मायावती ने बसपा समर्थकों को विपक्ष के हथकंडों से सावधान रहने के लिए आगाह किया गया है। उन्होंने पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को कहा कि वो जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में अपनी ऊर्जा और समय बर्बाद न करते हुए अपना समय पार्टी को मजबूत करने में लगाने की आवश्यकता है। मायावती ने कहा कि कार्यकर्ताओं ने यदि पार्टी को मजबूत किया तो बसपा अपने बलबूते सरकार बनाने में कामयाब हो सकती है।उन्होंने कहा कि विरोधी साम, दाम, दंड, भेद हर तरह की रणनीति अपनाने की कोशिश जारी है। इसके तहत मीडिया के जरिए जानबूझकर अफवाह फैलाई की कोशिश हो रही है कि बसपा आगामी यूपी विधानसभा चुनावों को लेकर सक्रिय रवैया नहीं अपना रही है। जबकि ऐसा नहीं है। यह सब कार्यकर्ताओं का मनोबल और उत्‍साह कम करने की साजिश है। उन्होंने बताया कि सभी को मालूम होना चाहिए कि कोरोना की पहली लहर के मद्धिम पड़ते ही फरवरी 2021 से वह लखनऊ में ही हैं। यही नहीं कोरोना नियमों का पालन करते हुए संगठन को मजबूत बनाने के लिए लगातार छोटी-बड़ी बैठकें होती रहती हैं। उन्होंने मीडिया को भी बसपा को कम करके नहीं आकंने की सलाह दी है। प्रेस कांफ्रेंस के अंत में मायावती ने आगामी विधानसभा चुनाव में बसपा को जिताने के लिए जनता का आह्वान करते हुए नारा लगाया है। उन्होंने कहा-यूपी को बचाना है, सर्वजन को बचाना है, बसपा की सरकार जरूर बनाना का दौर जारी है। मायावती ने विश्वास जताया कि अगले चुनाव में जनता उनकी पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने में लगें हुए हैं।

अंजर हाशमी