• Fri. Jan 27th, 2023

उत्तरप्रदेश में तीन महीने के भीतर बनाए जायेंगे ग्राम सचिवालय: सूत्र


लखनऊ: यूपी में पहली बार ग्राम पंचायतों का अपना ग्राम सचिवालय और पंचायत भवन बनाया जाएगा। इसमें गांव के लोगों को आसानी से सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का फायदा तो मिलेगा ही इसके अलावा बैकिंग की सेवा भी उपलब्ध कराई जाएगी। सभी नवीन और अत्याधुनिक उपकरणों से युक्त ग्राम सचिवालय का भवन के लिए कुछ समय बाद बनना शुरू हो जाएगा। इसमें जनसुविधा केन्द्र की सुविधा मिलेगा और बैंकिंग की सेवा देने के लिये बीसी सखी भी मौजूद होगा। ग्राम पंचायतों की कार्यप्रणाली को सही ढंग से स्वरूप प्रदान करने के लिये प्रदेश सरकार काफी जोरों शोरों से काम कर रही है। सरकार ने इसके लिये अगले 03 महीने में सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम सचिवालय और ग्राम पंचायत भवनों की स्थापना के निर्देश दिया गया है। सरकार की इस पहलसे गांव के लोगों को काफी सारी सुविधाएं दी जाएगी। विकास कार्यों को गति मिलने के अलावा ग्रामवासियों की समस्याएं पहले से कम समय में सामने आने की प्रक्रिया भी काफी आसान रहेगी। यूपी की 33577 ग्राम पंचायतों में ही पंचायत भवन मौजूद हैं। इन सभी पंचायत भवनों में मरम्मत के लिए अगले 03 माह में पूरा करने हेतु अधिकारियों को नसीहत दी गई है। सरकार की योजना प्रदेश में 24617 पंचायत भवन निर्मित किया गया है। इनमें से 2088 आर.जी.एस.ए के तहत बनाया जाना है। जबकि 22529 वित्त आयोग एवं मनरेगा के अनुसार स्वीकृत कर निर्मित करना बाकी है। इन सभी 24617 निर्माणाधीन पंचायत भवनों को राज्य सरकार ने युद्ध स्तर पर अगले 03 महीने में पूरी तरह से तैयार करने का इरादा किया है। सरकार ने ग्राम सचिवालय को फर्नीचर व इक्युपमेंट की आपूर्ति के लिए उन्हें सुसज्जित करने के अलावा उनमें कम्प्यूटर, इंटरनेट आदि की व्यवस्थाओं को पूरा करने की बात कही है। सरकार की योजना ग्राम सचिवालयों में गांव वालों को सुविधा प्रदान करने के लिए जनसेवा केन्द्र की स्थापना और बीसी सखी के लिये भी जगह उपलब्ध कराने का लक्ष्य बनाया गया है।

अंज़र हाशमी, उत्तरप्रदेश।