• Wed. Jun 23rd, 2021

एकता और हौसले से हारेगा कोरोना, निजी जज़्बात से नहीं

Apr 24, 2021 ,


यूपी में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं जिससे लोगों में खौफ का माहौल बना हुआ है. प्रदेश में 38 हज़ार से ज़्यादा मामले प्रतिदिन आ रहें है, ऑक्सीजन ठीक मात्रा में नहीं मिल पा रहा है जिससे काफी लोगों की मौत हो रही है. लोग आए दिन सोशल मीडिया पर ऑक्सीजन, प्लास्मा देने की गुहार लगा रहे हैं. सबको इस कोरोना काल में उलझन महसूस हो रही है. ये वक्त हमारे लिए चुनौती बनकर आया है. ये चुनौती सिर्फ यूपी ही नहीं, पूरा देश झेल रहा है. देश में लगभग 3 लाख से ज़्यादा मामले आ रहे हैं. ये मंज़र डराने वाला है और सबको डरकर नहीं बल्कि हिम्मत से कोरोना को मात देना है. ये हौसला लड़ने की कोशिश है जिसमे हम सबको सफल होना है. ये राजनीतिक बहस करने का समय नहीं है. ये एक दूसरे पर इल्ज़ाम लगाने का समय नहीं है श्रीमान, इसके लिए तो हमें बाद में समय लगेगा. हमको एक दूसरे को मदद करनी है. इस मुश्किल वक्त में सबको साथ लेकर चलना है. सबको सकारात्मक संदेश साझा करने की जररूत है. अगर किसी की ऑक्सीजन देने वाले मैसेज से जान बच सकती है तो हमको ये करना होगा. हम हज़ारों संदेश इधर उधर भेजते है, अब समय है कि कुछ इंसानियत के हित में संदेश भेजे.
नेताओं के संदेश पर ध्यान देने की ज़रूरत नहीं है. इससे किसी का फायदा नहीं होगा. इस समय भी कुछ लोग नफ़रत बढ़ाने में लगे हैं. ये गांधीजी, अशफाक, बिस्मिल की एकता और अंग्रेज़ो की गुलामी से आज़ादी पाना वाला देश है. ये अम्बेडकर साहब की काबिलियत और समानता दिलाने वाला मुल्क है. इन सब ने देश में भाईचारा बढ़ाने का काम किया था. हमें भी सीख लेने की आवश्यकता है. हमे बीमारी से लड़ना है, मानसिक रोगियों से नहीं. बस नैतिकता के साथ खूब प्रयास और सहजता से कोरोंना को हराएंगे. हम सबको साथ लेकर चलेंगे तो कोरोना ज़रूर हारेगा. स्वास्थ व्यवस्था सुधारने का सरकार द्वारा प्रयास हो रहा है तो केंद्र सरकार अपना काम कर रही है. अगर हम कोरोना से बचने के लिए मास्क लगाना, सनिटाइजर छिड़कना और सोशल डिस्टेंस का पालन कर लेते हैं तो कोरोना को मात दे सकते हैं. – अंज़र हाशमी, प्रयागराज