• Thu. Jul 11th, 2024

जानिए मोटरसाइकिल को साइड स्टैंड पर लगाने के नुकसान

भारत में आने-जाने का सबसे सुलभ और सस्ता साधन आज भी मोटरसाइकिल ही है। खासकर शहरों में दफ्तर या कॉलेज जाने वाले लोग इस पर पूरी तरह से निर्भर रहते हैं। तंग रास्ते हों या सड़क पर बेतरतीब ट्रैफिक, मोटरसाइकिल से किसी भी मंजिल पर पहुंचना आसान और सस्ता पड़ता है। बड़ी संख्या में लोग मोटरसाइकिल तो चलाते ही हैं, लेकिन कई बार जाने अनजाने में हम कुछ छोटी-छोटी गलतियां करके खुद का नुकसान भी कर बैठते हैं। ऐसी ही गलतियों में से एक है मोटरसाइकिल को साइड स्टैंड पर पार्क कर देना।

मोटरसाइकिल चलाने वाले 90 प्रतिशत लोग जल्दबाजी में या आलस के चलते मोटरसाइकिल को खड़ा करने के दौरान उसे साइड स्टैंड पर छोड़ देते हैं। मोटरसाइकिल को साइड स्टैंड पर कुछ समय के लिए पार्क करने में तो कोई दिक्कत नहीं है लेकिन ये समय यदि कई घंटों का है तो ये आपकी बाइक के लिए काफ़ी नुकसानदायक है। आइये आपको बताते हैं साइड स्टैंड पर मोटरसाइकिल पार्क करने से क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं।

माइलेज पर फर्कः मोटरसाइकिल को साइड स्टैंड पर पार्क करने के दौरान ईंधन का दबाव दो इंजेक्टर्स पर बनेगा। इससे कुछ समय बाद ही इसमें से बहुत कम मात्रा में ईंधन इंजन में जाने लगेगा। खासकर उन मोटरसाइकिल में ये समस्या आएगी जिनमें इंजन इंमोबिलाइजर नहीं होता है। ऐसे में ईंधन लगातार बर्बाद होगा और आपकी मोटरसाइकिल का माइलेज कम हो जाएगा।

गिरने का डरः साइड स्टैंड पर यदि आप मोटरसाइकिल को खड़ा करते हैं तो उसके गिरने का डर बना रहता है। हल्के से झटके से मोटरसाइकिल गिर सकती है और इसके कई हिस्सों को नुकसान पहुंच सकता है। ये आपके लिए एक खर्चीला सौदा साबित होगा।

नीचे के हिस्से को नुकसानः साइड स्टैंड मोटरसाइकिल की चेसिस पर जुडा हुआ होता है। लगातार मोटरसाइकिल को साइड स्टैंड पर खड़ा करने से कुछ समय बाद चेसिस उस जगह से कमजोर पड़ने लगती है क्योंकि उस पर असमान भार आता है। लंबे समय तक साइड स्टैंड पर खड़ा करने से ये चेसिस में झुकाव तक ला सकता है जो मोटरसाइकिल का संतुलन बिगाड़ सकता है।

ज्यादा जगह का घेरावः साइड स्टैंड पर मोटरसाइकिल खड़ी करने पर आप पार्किंग में दो मोटरसाइकिल जितनी जगह को घेरते हैं। क्योंकि साइड स्टैंड पर बाइक तिरछी खड़ी होती है। वहीं मध्य वाला स्टैंड लगाने से ये कम जगह घेरेगी और दूसरों को भी पार्किंग कि जगह मिलेगी।

आशीष ठाकुर – हिमाचल प्रदेश