• Sun. May 22nd, 2022

पंजाब औऱ राजस्थान की सियासी संकट थामने के लिए सोनिया गांधी ने बुलाई बड़ी बैठक

पंजाब और राजस्थान में बढ़ते सियासी संकट को देखते हुए कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज पार्टी के महासचिवों, राज्य प्रभारियों और राज्यों के अध्यक्षों की बड़ी बैठक बुलाई है। सोनिया गांधी द्वारा बुलाई गई यह बड़ी बैठक 24 जून को वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए की जाएगी। इस बैठक में भारत में वर्तामन राजनीतिक हालचाल पर भी चर्चा की जाएगी।
दरअसल, भारत में अगले साल उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। पंजाब चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के गुट के बीच टकराव जारी है। कांग्रेस आलाकमान लगातार प्रयास कर रही है कि इन दोनों नेताओं के बीच टकराव को खत्म किया जाए। पर अभीतक कांग्रेस आलाकमान के प्रयासों का कोई खासा प्रभाव देखने को नही मिला है।
पंजाब के तरह राजस्थान में भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच एक बार फिर विवाद बढ़ता जा रहा है। दरअसल सूत्रों के अनुसार मिली जानकारी के मुताबिक यह बताया जा रहा है कि सचिन पायलट राजस्थान सरकार के मंत्रिमंडल में विस्तार न होने से नाराज हैं। दरअसल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान में फिलहाल कैबिनेट विस्तार करने से इंकार कर दिया है। इनसब सियासी हलचल के कारण ही राजस्थान भी कांग्रेस हाईकमान के लिए बड़ी चिंता बन गई है।
वहीं राजस्थान और पंजाब के जैसे ही छत्तीसगढ़ में भी कांग्रेस के अंदर भूचाल आ गया है। दरअसल जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ के कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेख ढाई-ढाई साल के फॉर्मूले के अनुसार मुख्यमंत्री की कुर्सी चाहते हैं, जबकि मौजूदा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मुख्यमंत्री के कुर्सी से हटना नही चाहते है।
अब देखना होगा कि सोनिया गांधी के नेतृत्व में इन तीन राज्यों में आए सियासी बवाल को पार्टी हाईकमान कैसे कम करती है।
सौरव कुमार