• Tue. Jul 16th, 2024

तेज रफ्तार में अचानक कार का टायर फटने पर जान बचाने के लिए करें यह काम

गर्मियों का मौसम शुरू हो गया है, इस मौसम में कार के टायर फटने और इसके चलते हादसे होने की खबरें बढ़ती दिख रही हैं। ज्यादातर हादसे एक्सप्रेसवे या हाईवे पर देखने को मिल रहे हैं। टायरों में हवा का प्रेशर बढ़ने से यह हादसे होते हैं। जब कार की गति ज्यादा होती है तो टायरों का तापमान तेजी से बढ़ता है। ऐसे में अचानक टायर फट जाते हैं। जिसके कारण काफी बड़े हादसे हो जाते हैं और यहाँ तक कि गाड़ियां पलट भी जाती हैं।

बड़ा सवाल यह उठता है कि किसी भी व्यक्ति की कार का टायर किभी भी फट सकता है। लेकिन ऐसी परिस्थिति में हादसा कैसे टाला जाए और बचा कैसे जाए। तो आइये जानते हैं कि आपको ऐसी परिस्थिति में क्या करना चाहिए और आप खुद के साथ-साथ दूसरों की भी जान कैसे बचा सकते हैं।

स्टीयरिंग पर नियंत्रण 

देखा गया है कि ज्यादातर लोग स्टीयरिंग को हल्के हाथ से पकड़ कर चलाते हैं। लेकिन जब टायर फटता है तो स्टीयरिंग तेजी से एक तरफ घूमता है। ऐसी स्थिति में तेज रफ्तार होने के कारण लोग हादसे का शिकार हो जाते हैं। स्टीयरिंग अचानक घूमने पर अगर आप उसे संभाल सकेंगे तो कार पलटने से बच जाएगी। तो यह काफी जरूरी है कि स्टीयरिंग को अपने नियंत्रण में रखा जाए।

न लगाएं अचानक से ब्रेक

टायर फटने की स्थिति में कभी भी अचानक ब्रेक न लगाएं, ऐसा करने से आपकी कार तेजी से एक तरफ चली जाएगी। वही एक्सलरेटर को भी अचानक से कम ना करें। धीरे-धीरे गियर कम करके, सामान्य रूप से कार को रोकने का प्रयास करें।

रफ़्तार को रखें कम 

एक्सप्रेसवे हो या फिर हाईवे आपको कार की गति 80 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे के बीच ही रखनी चाहिए। क्योंकि इस रफ्तार में आप कार को आसानी से नियंत्रित कर सकते हैं और धीरे-धीरे कार को सड़क के किनारे लगा सकते हैं। ऐसे आप किसी बड़े हादसे से आसानी से बच जाएंगे।

सही रखें हवा का दबाव

कभी भी एक्सप्रेसवे या हाईवे पर कार ले जाने से पहले टायरों में एयर प्रेशर की जांच जरूर करें। इसे 30 पाउंड से ज्यादा ना रखें। क्योंकि कार जब हाईवे पर तेज रफ्तार से चलेगी तो हवा गर्म होकर फैलेगी और टायरों का प्रेशर बढ़ेगा।

टायर की करें जांच 

गर्मियों का मौसम आने से पहले कार के टायरों कि अच्छे से जांच कर लें, यदि आपके कार के टायर 80% से ज्यादा घिस गए हैं तो इन्हें जरूर बदलवाएं। गौरतलब है कि गर्मियों के मौसम में ऐसे टायरों के फटने का खतरा अधिक रहता है।

आशीष ठाकुर – हिमाचल प्रदेश