• Fri. Oct 7th, 2022

26 जनवरी को पीएम मोदी को दी जाएगी खड़ी सुरक्षा, खुफिया एजेंसियों ने किया अलर्ट।

गणतंत्र दिवस पर पांच मध्य एशियाई देशों- कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, ताजिकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान और उजबेकिस्तान के नेताओं को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किए जाने की संभावना है।आतंकी संगठनों का उद्देश्य बड़ी हस्तियों को टारगेट करना, सार्वजनिक सभाओं, महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों और भीड़-भाड़ वाले इलाकों में अशांति फैलाना है। ड्रोन से भी हमले की कोशिश की जा सकती है।पाकिस्तान में स्थित खालिस्तानी समूह भी पंजाब में आतंक फैलाने के लिए कैडरों को जुटा रहे हैं। वे पंजाब और अन्य राज्यों में टारगेटेड अटैक की भी योजना बना रहे हैं।भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार का चुनावी दांव बताया है। पंजाब चुनाव में कांग्रेस की मीडिया प्रभारी अलका लांबा ने ट्वीट किया, ‘चुनाव के दौरान भाजपा सरकार सीबीआई, ईडी और आटी रेड्स का इस्तेमाल करती है। इससे पहले इंद्रा गांधी को ऐसी चेतावनी मिली जिसे उन्होंने दरकिनार कर दिया था।

सतीश कुमार