• Sun. May 22nd, 2022

बीकानेर में डोर टू डोर वैक्सीनेशन ड्राइव, ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य राजस्थान

बीकानेर। राजस्थान में सोमवार से घर-घर जा करके कोरोना की लड़ाई को जीतने की पहल शुरू होगी. राजस्थान का बीकानेर देश का पहला ऐसा शहर बनने वाला है जहां घर घर जार करे कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) देने का काम शुरू होगा. 14 जून से बीकानेर (Bikaner) में डोर टू डोर कैंपेन (door to door Corona Vaccine drive) शुरू होगा. इसमें 45 वर्ष और इससे अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन देने का काम शुरू होगा. बीकानेर ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य होगा।बता दें कि राजस्थान में कोरोना को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य चल रहा है. वैक्सीनेशन केंद्र में टीकाकरण के साथ-साथ अब डोर टू डोर कैंम्पेन शुरू किया जा रहा है. फिलहाल अभी यह बीकानेर पर ही होगा अगर कारगर साबित होता है तो इसे अन्य जिलों में भी लागू किया जाएगा.
घरों में वैक्सीन आसानी से पहुंच सके इसके लिए 2 एंबुलेंस और तीन मोबाइल टीमें स्टैंडबाई पर रखी गई हैं।

वैक्सीनेशन के लिए 10 लोगों का रजिस्ट्रेशन जरूरी

जानकारी के अनुसार डोर टू डोर कैंम्पेन में जब तक 10 लोगों का रजिस्ट्रेशन वैक्सीनेशन के लिए नहीं होगा तब तक वैक्सीनेशन वैन रवाना नहीं की जाएगी. ऐसा फालतू के खर्चे को कम करने के उद्देश्य से किया गया है. सूत्रों का कहना है कि ऐसा इसलिए भी किया जा रहा है क्योंकि वैक्सीन की एक शीशी में दस लोगों को वैक्सीन लगाई जाती है. इसलिए 10 लोगों का रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है.
बता दें कि इसमें जब एक लोगों को वैक्सीन लग जाएगी तो उसके पास एक मेडिकल स्टॉफ रहेगा जो उसे ऑब्जर्व करेगा. वैक्सीन लगते ही वैक्सीन वैन दूसरे पते पर वैक्सीन लगाने के लिए पहुंच जाएगी।बीकानेर में कुल 16 शहरी प्राथमिक केंद्र हैं. डोर-टू-डोर वैक्सीनेशन कैंपने के दौरान इन प्राथमिक केंद्रों में कार्य करने वाले डॉक्टर्स को भी यह सूचित किया जाएगा ।

शुभम जोशी