• Thu. Jul 18th, 2024

राष्ट्रपति मुर्मू सर्बिया दौरे पर

बॅलग्रेड: भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने बुधवार को सूरीनाम के तीन दिन के दौरे के बाद सर्बिया में पैर रखा। उन्होंने वहां भारतीय समुदाय से मुलाकात की और कहा कि भारत विकास में सक्रिय योगदानकर्ता है और विश्व मंचों पर ग्लोबल साउथ का प्रतिनिधित्व करता है। यह भारत के एक महत्वपूर्ण शक्ति के रूप में उभरने का प्रमाण है।

भारत के राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भारतीय समुदाय से बात करते हुए कहा कि भारत में नए इंफ्रास्ट्रक्चर की स्थापना तेज गति से हो रही है और भारत 2047 तक एक विकसित राष्ट्र होने का सपना देखता है। उन्होंने कहा कि भारत विश्व की सबसे शीघ्र विकसित होने वाली अर्थव्यवस्था है। 3.5 ट्रिलियन डॉलर के जीडीपी के साथ, हम इसी दशक में दुनिया की तीसरी सबसे महत्वपूर्ण अर्थव्यवस्था का पद प्राप्त करने के पास हैं।

भारत के राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भारत और सर्बिया के बीच के सम्बन्धों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि दोनों देशों ने हमेशा एक-दूसरे के मुख्य हितों का सम्मान किया है। भारत और सर्बिया प्राचीन संस्कृतियों के धनी हैं। सर्बिया ने भारत के साथ विकास सहयोग परियोजनाओं में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि वह सर्बियाई मंत्रिमंडल और सरकारी पदाधिकारियों से मुलाकात करके अपनी यात्रा को सफल बनाना चाहते हैं।

सर्बिया के राष्ट्रपति अलेक्जेंडर वूसिक ने बेलग्रेड में राष्ट्रपति मुर्मू का अभिनंदन किया। राष्ट्रपति मुर्मू ने गांदीजेवा स्ट्रीट पर महात्मा गांधी के प्रतिमा को श्रद्धांजलि दी। उनका अगला कार्यक्रम माउंट अवाला में होगा, जहां वह गुमनाम नायक की समाधि पर पुष्पचक्र रखेंगी।

भारत के राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सर्बिया को भारतीय फिल्म उद्योग का एक नया पसंदीदा स्थान बताया। उन्होंने कहा कि भारतीय सिनेमा को सर्बिया में काफी प्रशंसा मिली है। सर्बिया के लोग योग और भारत की धार्मिक परंपरा से प्रभावित हैं।

अमन ठाकुर – हिमाचल प्रदेश