• Sun. May 22nd, 2022

योगगुरू रामदेव और IMA के तल्खी के बीच, पीएम ने की योग पर स्टडी करने की अपील

योगगुरू रामदेव और IMA के बीच चल रही तनातनी के बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डॉक्टर्स डे के अवसर पर संबोधन दिया। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने इंडियन मेडिकल एसोसिएशन से अपील करते हुए कहा कि वह योग के ऊपर स्टडी करें। पीएम ने कहा IMA इस पर स्टडी करके योग के फायदें को पूरी दुनिया को बताए। प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा कि जब डॉक्टर योग पर स्टरी करते हैं तो पूरी दुनिया इसे गंभीरता से लेती है। क्या ऐसे अध्ययन को मिशन मोड पर आईएमए आगे बढ़ा सकती है? क्या योग पर उनकी स्टडी इंटरनेशनल जर्नल्स में प्रकाशित हो जकती है?
पीएम ने कहा आज हमारे डॉक्टर्स की ओर से कोरोना के खतरे को देखते हुए कोविड प्रोटोकॉल तैयार किया जा रहा है और उसे लागू कराया जा रहा है जिससे कोरोना के खतरे को कम किया जा सके। मेडिकल इन्फ्रास्ट्रकचर को इग्नोर किया गया। पर भारत फिर भी कई विकसित देशों की तुलना में बेहतर स्थिति में है।
पीएम ने कहा लोगों से अपील करते हुए कहा कि आप सभी पूरी सजगता के साथ कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें। डॉक्टर्स डे पर दिए अपने संबोधन में पीएम मोदी ने डॉक्टरों की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा हमारे डॉक्टर्स के ज्ञान और अनुभव के कारण हम कोरोना की इस लड़ाई में मजबूती से लड़ रहे हैं। इसे देखते हुए ही हेल्थ सेक्टर का बजट भी सरकार की ओर से दोगुना कर दिया गया है।
पीएम मोदी ने कहा की कोरोना से जारी इस जंग में डॉक्टर्स की मेहनत की सराहना करते हुए कहा कि हमारे चिकित्सकों ने लाखो लोगों की जान कोरोना के वैश्विक बीमारी से बचाई है, और वो अब भी इस कार्य में लगे हुए हैं। पीएम ने उन डॉक्टर्स को श्रद्धाजंली भी अर्पित की जिन्होंने कोरोना की इस जंग में अपनी भूमिका निभाते हुए अपनी जान न्योछावर कर दी। उन्होंने डॉक्टर्स की भूमिका को सेवा का मिसाल बताया। इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया की उनकी सरकार कोविड वारियर्स के लिए फ्री इंश्योरेंश स्कीम भी लेकर आई है।
सौरव कुमार