• Fri. Jul 19th, 2024

भारत और कनाडा को लेकर हुआ ये अहम चर्चा

Oct 3, 2023 ABUZAR , ,

भारत सरकार ने कनाडा पर दोबारा से शिकंजा कसने शुरू कर दिया गया हैं भारत ने कनाडा से अपने 20 से ज्यादा डिपलोमेट्स को वापस लाने को लेकर जानकारी दी गई है। नई दिल्ली ने ओटावा से 10 अक्टूबर तक लगभग 40 राजनयिकों को देश छोड़ने को लेकर बात की है। हालांकि भारत सरकार द्वारा इसकी कोई पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन फाइनेंसियल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, कनाडा के भारत में 62 राजनयिक हैं और भारत सरकार ने इनमें से 41 को वापस जाने को लेकर बात की है।

बता दें कि जी 20 शिखर सम्मेलन के बाद कनाडा के कनाडा की विदेश मंत्री ने भारत के एक वरिष्ठ राजनायिक को देश से निकाल दिया था। हालांकि कनाडा ने लगाए गए आरोप के समर्थन में कोई सबूत नहीं पेश किया है। इसके जवाब में भारतीय विदेश मंत्रालय ने कनाडा के हाई कमिश्नर के साथ एक मीटिंग की और पांच दिनों के अंदर देश छोड़ने का निर्देश दिया था। इसी कड़ी में भारत ने एक बार फिर अहम कदम उठाया है। भारत सरकार ने 10 अक्टूबर तक कनाडा के 41 राजनायिकों को देश छोड़ने की बात कही है।

भारत ने आरोपों को किया खारिज

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा था, ”भारत कनाडा के आरोपों को खारिज करता है। हमने उनकी संसद में कनाडा के प्रधानमंत्री के बयान को देखा है और उनके विदेश मंत्री के बयान को भी खारिज किया है। कनाडा में हिंसा के किसी भी कृत्य में भारत सरकार की भागीदारी के आरोप बेतुके और प्रेरित हैं… बयान में आगे कहा गया, ”हम कानून के शासन के प्रति मजबूत प्रतिबद्धता वाली एक लोकतांत्रिक राजनीति हैं।”

एस. जयशंकर ने कही थी ये बात

गौरतलब है कि विदेश मंत्री एस.जयशंकर ने कुछ दिन पहले कहा था कि कनाडा बीते कई सालों से आतंकवादी और आतंकी गतिविधियों में शामिल लोगों को शरण दे रहा है। उन्होंने आगे कहा था कि कनाडा द्वारा छेड़े गए इस इस मुद्दे पर भारत सरकार खुलकर बात करने के लिए तैयार है।