• Mon. Oct 18th, 2021

Cm योगी आदित्यनाथ ने किया इन अधिकारियों को बर्खास्त

गोरखपुर पुलिस की पिटाई से हुई मौत के बाद चल रहे बवाल के बीच सीएम याेगी ने भ्रष्ट पुलिस अफसरों पर एक्शन करने को कहा हैै। सीएम योगी ने कहा हैै कि हाल के दिनों में कतिपय पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों के अवैध गतिविधियों में संलिप्त होने की शिकायतें मिली हैं। यह कतई बर्दास्त नहीं है। सीएम ने कहा कि पुलिस विभाग में ऐसे लोगों के लिए कोई स्थान नहीं होना चाहिए। उन्होंने आला अधिकारियों से कहा हैै।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने वालों में मृतक मनीष की पत्नी मीनाक्षी, बेटा अभिराज, पिता नंदकिशोर, भाई सौरभ, भांजे का दोस्त दुर्गेश बाजपेई, परिचित दीपक श्रीवास्तव, अधिवक्ता रंजीत सिंह और बहनोई रोहित गुप्ता शामिल हैं।मनीष गुप्ता के दोस्त हरियाणा के रहने वाले हरदीप और प्रदीप ने पुलिस की ज्यादती बताई वहीं मनीष गुप्ता की अपने भांजे से मोबाइल से बातचीत की आडियो भी सामने आई जिसमें पता चला कि पुलिसवालें उनके साथ दुर्व्यवहार कर रहे हैं। हालांकि पिटाई के बाद मौत होने पर पुलिस ने शव को करीब डेढ़ घंटे तक छिपाए रखा। वह एक प्राइवेट हास्पिटल में ले गए और वहां से हालत गंभीर बताकर मेडिकल कालेज ले गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मीनाक्षी से बात की न्याया का भरोसा दिया और एफआईआर दर्ज कराने को कहा जिसके बाद इंस्पेक्टर जगत नारायन सिंह, चौकी इंचार्ज अक्ष्य मिश्र और सब इंस्पेक्टर विजय यादव को नामजद तथा तीन अज्ञात पुलिस कर्मियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया।

सतीश कुमार