• Fri. Sep 24th, 2021

लॉकडाउन इफेक्ट: दुनिया की इकॉनमी पर बड़ा असर, भारतीय रेलवे पर भी बड़ी मार

केंद्रीय रेल राज्यमंत्री राव साहेब दान्वे ने रविवार को इससे जुड़े आंकड़ों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोरोना पैंडेमिक के दौरान रेलवे को 36,000 करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है। हालांकि इस दौरान मालगाड़ी ने रेलवे को बड़ा सहारा दिया।उन्होंने कहा कि पैसेंजर ट्रेन सेगमेंट हमेशा घाटे में रहता है। टिकट के दाम बढ़ाने से पैसेंजर्स की जेब पर असर पड़ता है, इसलिए हम वह भी नहीं कर सकते। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के दौरान रेलवे को 36,000 करोड़ रुपए का घाटा उठाना पड़ा है।रेल राज्यमंत्री ने कहा कि वह देखेंगे कि जालना-खामगांव रेलवे लाइन मजबूत है या नहीं। अपने ऊपर विरोधियों पर टिप्पणी के बाबत उन्होंने कहा कि उनके ऊपर चारों ओर से हमले हुए हैं लेकिन आलोचनाओं ने उन्हें मजबूत बनाया है। इस मौके पर मौजूद रहे महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि राज्य सरकार ने जालना में एक अस्पताल पास किया है।

सतीश कुमार (ऑपरेशन हेड साउथ इंडिया)