• Sun. Jan 23rd, 2022

12वीं कक्षा के छात्र ने स्कूल खोलने के लिए सुप्रीम कोर्ट का खटखटाया दरवाजा

इस कोरोना काल में स्कूल कॉलेज बंद रखने पर मजबूर हो चुके है। ऐसे में बच्चों के लिए मौज के साथ साथ घर में कैद रहने की सज़ा का एहसास बनता जा रहा है। इसी सज़ा से दूर भागने के लिए 12वीं कक्षा के एक छात्र ने अदालत से स्कूल खोलने की गुहार लगाई बता दें कि छात्र का नाम अमर प्रेम प्रकाश है। अमर प्रेम प्रकाश ने अदालत से गुहार लगा कर याचिका दायर कराई है।

क्या कहा याचिकाकर्ता ने:

याचिकादायर करने वाले अमर प्रेम प्रकाश ने अदालत से स्कूल खोलने की मांग की है। उन्होने कहा कि पिछले साल मार्च अप्रैल माह से स्कूल बंद कर दिये गये है। जिस से छात्रों पर इसका मांसिक असर पड़ रहा है। इस से कई छात्र भी तनाव का भी शिकार हो रहें है। ऑनलाइन पढ़ाई भी ठीक से नहीं हो रही है। छात्रों का पूर्ण रूप से विकास नहीं हो पा रहा है। अपनी बात को आगे रखते हुए छात्र ने ये भी कहा कि राज्य अपने यहा कोरोना की हालत देखते हुए स्कूलों को खोल देने का निर्णय लें

धीरे धीरे खोले जा रहे स्कूल:

बता दें कि कई राज्य में स्कूलों को खोलने की प्रक्रिया आरंभ की जा चुकी है। हालाकी दिल्ली राज्य को छोड़कर अन्य और राज्यों में स्कूलों को खोलने की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। हालांकी मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में स्कूल खोलने के बाद कोरोना संक्रमण के लक्षण भी बच्चों में पाये गये है। एसे में स्कूल खोलने के फैसले पर सरकार के सामने काफी असमंजस वाली स्थिती पैदा हो जाती है।

सार्थक अरोड़ा (स्टेट हेड दिल्ली)