• Fri. Sep 24th, 2021

कांग्रेस के कारण जिसके लिए अब हवेली बचाए रखना भी है मुश्किल: शरद पंवार

Sep 10, 2021 , ,

शरद पवार ने अपनी सहयोगी पार्टी कांग्रेस को ही आईना दिखाते हुए कहा है कि उसकी लीडरशिप को यह स्वीकार करना होगा कि अब उनका पहले जैसा प्रभाव नहीं रहा है। पवार ने कहा कि कांग्रेस अब वह पार्टी नहीं रही है, जिसका कभी कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक प्रभाव हुआ करता था। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस को संकेत दिया कि उसे हकीकत को स्वीकार करते हुए राजनीति करनी चाहिए।यदि कांग्रेस इस सच्चाई को स्वीकार कर लेती है तो समान विचारधारा वाले दूसरे दलों के साथ उसकी करीबी और बढ़ेगी। इंडिया टुडे ग्रुप के मराठी डिजिटल प्लेटफॉर्म मुंबई तक से बात करते हुए शरद पवार ने कहा, ‘जब नेतृत्व की बात आती है तो कांग्रेस के मेरे सहयोगी दूसरे किसी विचार को स्वीकार करने की स्थिति में नहीं होते।जिसने अपनी सारी जमीन गंवा दी है और अब अपनी हवेली की भी सुरक्षा नहीं कर पा रही। शरद पवार ने कहा कि मैं यूपी के जमींदारों को लेकर एक कहानी बताता हूं, जिनके पास बड़े पैमाने पर जमीनें थीं और और बड़ी सी हवेली थी। जो जमीन हजारों एकड़ थी, वह अब घटकर 15 से 20 एकड़ ही रह गई। लेकिन जमींदार जब सुबह उठते तो आसपास के हरे-भरे खेतों को देखकर सोचते कि यह सारी जमीन उनकी ही है।

सतीश कुमार ( ऑपेरशन हेड, साउथ इंडिया)