• Thu. Sep 23rd, 2021

उत्तरप्रदेश: प्रयागराज में बढ़ रहा डेंगू का कहर, अभी तक हुई 47 मरीजों की पुष्टि

प्रयागराज: प्रयागराज में डेंगू का कहर तेज़ी से बढ़ता जा रहा है। डेंगू ने सरकार को दुबारा सोचने पर मजबूर कर दिया है। गंगा यमुना नदियों आई बाढ़ से लोगों को राहत पहुंचने केबाद अब डेंगू ने संगम नगरी में रहने वालों की चिंता बढ़ा दी है। प्रयागराज में ताजा आंकड़ों के।मुताबिक 47 लोगों में डेंगू पाया गया है। इसमें शहरी क्षेत्र में 33 और ग्रामीण क्षेत्र में डेंगू के 14 मरीज मौजूद हैं। इसमें से करीब से एक दर्जन से अधिक मरीज अब तक स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं, जबकि पांच डेंगू संक्रमित मरीजों का अलग-अलग सरकारी और निजी अस्पतालों में इलाज जारी है। सीएमओ डॉ नानक सरन के जानकारी दिया कि डेंगू संक्रमित एक मरीज एसआरएन अस्पताल में, एक प्रीती नर्सिंग होम, एक नाजरेथ और दो बेली अस्पताल में भर्ती किए गए हैं।

सीएमओ के अनुसार शहर में अभी तक डेंगू से किसी की मौत नहीं हुई है और हालात को पूरी तरह से काबू कर लिया गया है। अस्पतालें में मरीजों की सुविधा के लिए आइसोलेशन वार्ड बना दिया गया है जिससे मरीजों की संख्या बढ़ने से परेशानी ना हो।सके। इसके अलावा दवाइयों का पूरा प्रबंध कर लिया गया है। इसके साथ प्लेटलेट्स की कमी होने पर ब्लड बैंक बनाए जाने को कह दिया गया है। वही मलेरिया विभाग और नगर नगर साथ मिलकर फॉगिंग से साफ सफाई का पूरा ध्यान दे रही हैं। डेंगू का संक्रमण फैलने का ममुख्या कारण साफ पानी में पैदा होने वाले एडी मच्छर है जिसके काटने से इसका असर शुरू हो जाता है। इसके साथ मच्छर का लार्वा भी नष्ट करने का कार्य जारी है।

लोगों को डेंगू से बचाव हेतु किया जा रहा जागरूक
नगर के सभी लोगों को साफ पानी न जमा होने के लिए जागरूकता फैलाई जा रही है जिससे लोग साफ पानी इकट्ठा करने से बचे।
सीएमओ ने गमले, टायर और कूलर में पानी जमा ना होने देने का लोगों से अनुरोध किया है। उन्होंने बताया कि कहीं साफ पानी इकट्ठा होता है तो केरोसिन ऑयल डाल दे जिससे मच्छर का।लार्वा ना पनप सके। यही नहीं बीपीएल कार्ड धारकों के लिए लगभग 9000 मच्छरदानी मंगा दी गई हैं। जिस इलाके में डेंगू के मरीज पाए जा रहे हैं वहां पर दवा छिड़कने का काम किया जा रहा है।

अंज़र हाशमी, उत्तर प्रदेश।