• Tue. Jan 18th, 2022

महाराष्ट्र: वापस बन सकती हैं शिवसेना और बीजेपी की सरकार

बीजेपी के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस ने रविवार को कहा कि उनकी पार्टी और पूर्व सहयोगी शिवसेना दुश्मन नहीं हैं, हालांकि उनके बीच कुछ मुद्दों पर मतभेद हैं और कहा कि राजनीति में कोई ‘किंतु-परंतु” नहीं होता। यह पूछे जाने पर कि क्या दो पूर्व सहयोगियों के फिर से एक साथ आने की संभावना है, फडणवीस ने कहा कि स्थिति के आधार पर उचित निर्णय किया जाएगा।” फडणवीस के जवाब से सियासी गलियारों में उन अटकलों में तेजी आई है जिनमें कहा जा रहा है।राजनीति में कोई किंतु परंतुनहीं होता है। परिस्थितियों के अनुसार निर्णय लिए जाते हैं।वह महाराष्ट्र विधानमंडल के मॉनसून सत्र की पूर्व संध्या पर संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।फडणवीस ने कहा कि केंद्रीय जांच एजेंसियां हाई कोर्ट के आदेश पर महाराष्ट्र में विभिन्न मामलों की जांच कर रही हैं और उन पर कोई राजनीतिक दबाव नहीं है। फडणवीस का बयान पिछले दिनों शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुलाकात की पृष्ठभूमि में आया है।हमारे बीच राजनीतिक और वैचारिक मतभेद हो सकता है। लेकिन अगर हम सार्वजनिक कार्यक्रमों में आमने-सामने आते हैं तो अभिवादन जरूर करेंगे।महाराष्ट्र राज्य लोक सेवा आयोग एमपीएससी के उदासीन रवैये के कारण किसी भी सदस्य की नियुक्ति नहीं की गयी और परीक्षाएं और साक्षात्कार नहीं हो रहे हैं।

सतीश कुमार (ऑपेरशन हेड साउथ इंडिया)